• सोशल मीडिया, बिहार की सत्ता और निलंबन

    Author(s):
    Pramod Ranjan (see profile)
    Date:
    2011
    Group(s):
    Gender Studies, Literary Journalism
    Subject(s):
    Bihar (India). Legislature. Legislative Council, Facebook (Firm), Freedom of expression
    Item Type:
    Book chapter
    Tag(s):
    फेसबुक पोस्ट, सोशल मीडिया, बिहार के लेखक
    Permanent URL:
    https://doi.org/10.17613/amsa-r522
    Abstract:
    16 सितबर, 2011 को बिहार विधान परिषद् ने अपने दो कर्मचारियों- अरुण नारायण और मुसाफिर बैठा निलंबित कर दिया था। उन पर आरोप था कि उन्होंने परिषद् सभापति के निर्णय पर अपने एक फेसबुक पोस्ट में सवाल उठाया था। इससे पहले परिषद् ने अपने एक और कर्मचारी सैयद जावेद हुसेन को भी नौकरी से बर्खास्त कर दिया था। यह टिप्प्णी इसी संदर्भ में है।
    Metadata:
    Published as:
    Book section    
    Status:
    Published
    Last Updated:
    1 year ago
    License:
    Attribution-NonCommercial

    Downloads

    Item Name: pdf बिहार-विधान-परिषद-से-लेखक-कर्मचारियों-के-निलंबन-पर-लेख-प्रमोद-रंजन.pdf
      Download View in browser
    Activity: Downloads: 19